कैसे करें रेडियो पर विज्ञापन?

Radio Recording

रेडियो विज्ञापन

भारत में रेडियो का पदार्पण  देश की आज़ादी से पहले हुआ था और आने वाले कई सालों तक रेडियो ही जनता का एकमात्र मनोरंजक रहा है | वक़्त के साथ टेलीविज़न और इंटरनेट के आने से ऐसा लगता ज़रूर है की रेडियो की मशहूरता कम हो गयी होगी किन्तु, ऐसा नहीं है | रेडियो ने भी समय के बदलाव के साथ अपना रूप रंग बदला है और अपने समकालीन बन्धुओं के साथ कंधे से कन्धा मिलाये हुए बढ़ रहा है| कुछ लोकप्रिय रेडियो चैनल्स हैं- रेडियो मिर्ची, रेडियो वन, रेड एफ़ एम , रेडियो फीवर और एफ़ एम रेनबो|

Radio Channels in India

2017 में भारत में रेडियो का प्रदर्शन

  • 2017 में रेडियो सुननेवालों में 5 % की बढ़ोत्तरी हुई
  • इस वृद्धि के मुख्य कारण थे- भारत की युवा जनसंख्या, फिल्मी गीतों की संख्या में वृद्धि, मोबाइल में रेडियो और आने जाने के लिए स्वयं के वाहनों का प्रयोग
  • रेडियो विज्ञापनों की भी संख्या में उछाल आया और सबसे अधिक विज्ञापन देने वाली कम्पनियाँ कंस्यूमर गुड्स, बैंकिंग, ऑटोमोबाइल, टेलीकॉम, इ-कॉमर्स और मीडिया से थीं |

Radio being played in cars

रेडियो विज्ञापन के फायदे

  • रेडियो चैनल्स शहरी पैमाने पर काम करते हैं इसीलिए लोकल स्तर के व्यापार के विज्ञापनों के लिए रेडियो सटीक है
  • रेडियो विज्ञापन दर अन्य विज्ञापन माध्यमों के मुकाबले सस्ते होते हैं
  • रेडियो विज्ञापन छोटे लेकिन असरदार होते हैं, न इन्हें बनाने में इतना पैसा लगता है और एक ही विज्ञापन स्लॉट में बार बार भी चलाए जा सकते हैं जिससे लोगों को ये विज्ञापन याद रह जाते हैं|

Radio in villages

रेडियो विज्ञापन के प्रकार:

  • जिंगल विज्ञापन- यह रेडियो विज्ञापन का सबसे लोकप्रिय प्रकार है| जिंगल 10 सेकंड से 2 मिनट तक लम्बा हो सकता है|
  • रेडियो जॉकी मेंशन- इस प्रकार के रेडियो विज्ञापन में रेडियो जॉकी अपने प्रोग्राम में आपके ब्रांड के बारे में बात करते हैं| इन विज्ञापनों का दर थोड़ा अधिक होता है|
  • स्पॉन्सरशिप टैग- आप किसी प्रमुख रेडियो प्रोग्राम को स्पॉनसर कर सकते हैं| जब भी उस प्रोग्राम का नाम लिया जाएगा तब तब स्पॉनसर का भी नाम लिया जाएगा
  • रेडियो कांटेस्ट- आपने कई बार रेडियो जॉकी को रेडियो पर कांटेस्ट चलाते हुए देखा होगा| आप इस कांटेस्ट को स्पॉनसर कर सकते हैं और जब भी ये कांटेस्ट होंगे तब आपके ब्रांड का नाम लिया जाएगा| कांटेस्ट के प्रश्न भी आप अपने हिसाब से बना सकते हैं|
  • टाइम चेक – हर घंटे रेडियो पर टाइम चेक होता है और यह भी आप स्पॉनसर कर सकते हैं
  • स्टूडियो शिफ्ट – इस प्रकार के रेडियो विज्ञापन किसी बड़े पैमाने के कार्यक्रम में किये जा सकते हैं जिसमे रेडियो जॉकी स्टूडियो छोड़ कर कार्यक्रम के स्थान से रिकॉर्डिंग करता है| इस तरह के विज्ञापन का बजट बहुत अधिक होता है|
  • रोडब्लॉक- रोडब्लॉक में ब्रांड रेडियो चैनल के सारे विज्ञापन स्लॉट खरीद लेती है कुछ समय के लिए| इस वक़्त के दौरान कोई और ब्रांड अपना विज्ञापन नहीं चला सकती

Radio Jockey recording

रेडियो विज्ञापन दर

रेडियो विज्ञापन का दर प्रति दस सेकंड के हिसाब से लगाया जाता है | यह दर शहरों और रेडियो चैनल के हिसाब से बदल सकता है- छोटे शहरों में रेडियो विज्ञापन देना सस्ता होता है बड़े शहरों के मुकाबले| यह दर पता करने के लिए आप रेडियो चैनल  से भी बात कर सकते हैं लेकिन सबसे सुविधाजनक होगा हमारे वेबसाइट पर जा कर हर रेडियो चैनल के विज्ञापन दर पता करना. हमारे पास हर रेडियो चैनल के दर मौजूद हैं जिनकी आप वहीँ पर तुलना भी कर सकते हैं| रेडियो विज्ञापन दर के लिए हमारे वेबसाइट लिंक पर क्लिक करें: https://themediaant.com/radio/

आप हमें ईमेल भी कर सकते हैं : Help@TheMediaAnt.Com

द मीडिया ऐंट- रेडियो विज्ञापन एजेंसी

द मीडिया ऐंट भारत की सबसे विश्वश्त रेडियो विज्ञापन एजेंसी है| हम देश भर के सभी रेडियो चैनलों पर विज्ञापन देने में आपकी मदद कर सकते हैं| रेडियो विज्ञापन के लिए द मीडिया ऐंट सबसे अच्छी रेडियो विज्ञापन एजेंसी है क्योंकि:

  • आपको रेडियो विज्ञापन दर जानने के लिए किसी को संपर्क करने की ज़रूरत नहीं है- आप हमारी वेबसाइट पर सभी रेडियो चैनल के विज्ञापन दर देख सकते हैं
  • हमारी रेडियो विज्ञापन दर सबसे कम हैं
  • हम न सिर्फ आपके लिए रेडियो चैनलों के साथ संपर्क कर सबसे कम दर पर कैंपेन बुक करते हैं, बल्कि हम पूरा प्रोजेक्ट स्वयं ही सँभालते हैं| आपको बस हमें जिंगल देना है| इतना ही नहीं, हम आपकी जिंगल रिकॉर्ड करने में भी सहायता कर सकते हैं |

कैसे बुक करें द मीडिया ऐंट के साथ अपना रेडियो विज्ञापन?

  1. सबसे पहले वेब ब्राउज़र खोल कर उसपे टाइप करें या यहीं से क्लीक करें-

https://themediaant.com/radio/

  1. आपको स्क्रीन की बायीं तरफ फिल्टर्स दिखेंगे जहाँ से आप अपनी पसंदीदा रेडियो चैनल को ढून्ढ सकते हैं:

जगह – उदहारण के लिए कानपुर

विज्ञापन के प्रकार – उदहारण के लिए जिंगल

भाषा- उदहारण के लिए हिंदी

रेडियो स्टेशन – उदाहरण के लिए रेडियो सिटी

Radio Tool Page

यदि आप कानपूर के सभी चैनल देखना चाहें तो रेडियो स्टेशन न चुनें

TMA Filters

TMA Radio Filters 2

3. अब इन रेडियो चैनलों को आप दो रूप में देख सकते हैं- कार्ड (चित्र) के रूप में और लिस्ट (सूचि) के रूप में

Radio Card View

radio list view

4. कार्ड पर क्लिक कर के आप रेडियो सिटी के सारे विज्ञापन प्रकार देख पाएंगे

Radio Card view

5. लिस्ट पर आप जिंगल विज्ञापन का दर देख पाएंगे १० सेकंड के लिए

radio list view

6. आप “View Detailed Pricing” पर क्लिक कर के अपना कैंपेन बुक कर सकते हैं

Campaign booking

7. अपना कैंपेन “SAVE” कर के लॉगिन कर लें और डैशबोर्ड पर क्लिक करें

TMA Dashboard

8. यहाँ से आप खुद को रेडियो विज्ञापन दर ईमेल भी कर सकते हैं या ऑनलाइन पेमेंट कर कैंपेन पूरा कर सकते हैं

TMA Dashboard email

अधिक जानकारी के लिए आप हमें मेल कर सकते हैं- Help@TheMediaAnt.Com या कॉल कर सकते हैं 080-67415510 पर

Was this article helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.